Text selection Lock by Hindi Blog Tips

मंगलवार, 15 नवंबर 2011

ज़िंदगी..............






न ठहरी है.........न  ठहरेगी.......ज़िंदगी वो रवानी है !
जो जी लो तुम इसे सब-कुछ है.....वर्ना बहता पानी है !!


बहुत आये-गए उलमा.......बादशाह, पीर औ काजी !
सभी की ज़िंदगी पानी पे लिखी........इक कहानी है !!


किसी ने अपनी कूबत से.....बना डाला इसे बदतर !
किसी की ज़िंदगी जैसे.......समुन्दर की जवानी है !!


समझते वो हैं के मारा......उन्होंने तीर बेहतर है !
परिंदे उड़ गए कब के......कहीं न अब निशानी है...!!

हर इक रिश्ता यहाँ उनका सियासत की तरह लेकिन 
न हम आ पाए उनकी बात में....अल्हड़ जवानी है...!!





28 टिप्‍पणियां:

  1. jindgi mere ghar ana ...ana zindgi....bahut badiya rchana...

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहता पानी निर्मल होता है... जिंदगी भी ऐसी है... ठहरती जो नहीं है!

    उत्तर देंहटाएं
  3. Hi..

    Jindgi sabki hai chalti, koi raja, rank ho. .
    Apne hain kirdaar sabke, koi chahe ank ho..
    Chhod kar ke jo gaya, wo fir kahan aa payega..
    Apnon main wo yaad ke jaise, basa rah jayega..

    Sundar bhav..

    Deepak Shukla

    उत्तर देंहटाएं
  4. हा हा हा हा हा
    वाह
    परिंदे उड़ गए कब के ...अब साधो तुम सायों पर निशाना |

    पूनम जी !!

    उत्तर देंहटाएं
  5. सुभानाल्लाह............हर शेर उम्दा........बेहतरीन और ताज़ा ग़ज़ल|

    उत्तर देंहटाएं
  6. Waah ! bahut umda likha hai aapne.

    लोकतंत्र के चौथे खम्बे पर अपने विचारों से अवगत कराएँ
    औचित्यहीन होती मीडिया और दिशाहीन होती पत्रकारिता

    उत्तर देंहटाएं
  7. बहुत खूब..जीवन में ये रवानी बनी रहे.

    उत्तर देंहटाएं
  8. parinde udte rahenge
    naye thikaane banaate rahenge
    jo ye samajh lenge
    har haal mein hanste rahenge
    kabhee aansoo naa bahaayenge
    himmat se jeete rahenge

    उत्तर देंहटाएं
  9. aap achhaa likhte rahenge
    ham bhee aise hee
    comment karte rahenge
    honslaa badhaate rahenge
    khoob likhne kee duaa
    dete rahenge

    उत्तर देंहटाएं
  10. जीवन सच में पानी पे लिखी कहानी ही है ... पर बहुत से मोड से गुज़रता है ये पानी अपनी राह बनाता है ...

    उत्तर देंहटाएं
  11. सुभानाल्लाह........बेहतरीन ग़ज़ल.......हर शेर बेहतरीन........दाद कबूल करें......दूसरा वाला सबसे बेहतर |

    आपकी सम्पति आपको सौंप रहा हूँ :-)

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत बढ़िया.....
    बेहतरीन शेर...

    उत्तर देंहटाएं
  13. आज 26/02/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर (सुनीता शानू जी की प्रस्तुति में) लिंक की गयी हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  14. सही बात.... सुन्दर अभिव्यक्ति...
    सादर बधाइयां.

    उत्तर देंहटाएं
  15. एक एक मतला बेहतरीन पूनम जी अच्छी गजल कही है आपने

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत खूबसूरती के साथ अपनी भावनाओं को अभिव्यक्ति दी है ! जितनी रवानी भावों में हैं उतना ही प्रवाह उनके चित्रण में है ! शुभकामनायें !

    उत्तर देंहटाएं
  17. सहज, सुन्दर प्रभावपूर्ण

    उत्तर देंहटाएं