Text selection Lock by Hindi Blog Tips

शनिवार, 30 मार्च 2013

स्वप्न...जो पूरे नहीं होते कभी...








न जाने कितने स्वप्न...
न जाने कितने ख्वाब..
कुछ पूरे ..
कुछ अधूरे...
तैरते रहते हैं इन आँखों में..!
हर सपने की एक ही चाहत..
काश कि पूरा हो जाये...!
हर ख्वाब की एक ही हसरत...
काश कि हकीकत में तब्दील हो जाये...!
ये जिंदगी...
हकीकत में ख्वाबों की ताबीर भले ही हो..
फिर भी जिंदगी के रंग हैं ये...
इन सपनों से ही है जिंदगी...!
कुछ ऐसे ख्वाब...
जो रोज देखे जाते हैं....
कुछ ऐसे स्वप्न...
जो कभी पूरे ही नहीं हो पाते हैं...!
फिर भी हम करते हैं इंतज़ार इनका..
क्यूँ कि ये होते ही हैं...
बस देखने के लिए...!!
तभी तो कहा है किसी ने...
"कल के सपने आज भी आना..."



14 टिप्‍पणियां:

  1. सपने तो सपने होते हैं ,नींद टूटी सपने भी गायब new postकोल्हू के बैल

    उत्तर देंहटाएं
  2. जो पूरे होने होते हैं, वे रह रहकर आते हैं।

    उत्तर देंहटाएं
  3. ख्वाबों का अस्तित्व ही पूरा न होने में है....

    सुन्दर रचना...

    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  4. जो ख्वाब पूरे न हो उन्हें अधूरे छोड़ना ही बेहतर | बहुत सुन्दर रचना | आभार

    कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
    Tamasha-E-Zindagi
    Tamashaezindagi FB Page

    उत्तर देंहटाएं
  5. waah..waah..bas yahi nikal raha hai..bahut bhhavpoorn rachna..dil ko chu gayi bilkul.

    उत्तर देंहटाएं
  6. हजारों ख्वाहिशें ऐसी...

    उत्तर देंहटाएं
  7. कल के सपने आज भी आना .............बेमिसाल .........

    उत्तर देंहटाएं
  8. स्वप्न अच्छे हैं संभावनाओं के द्वार तक ले जाते हैं

    उत्तर देंहटाएं